Monday, 18th December 2017

विस की तरह चली निगम की सामान्य सभा

Sun, Oct 23, 2016 5:59 PM

रायपुर। रायपुर नगर निगम में संपन्न हुई सामान्य सभा अपने आप में अनूठी रही। विधानसभा में चलने वाले प्रश्रकाल की तरह ही सामान्यसभा में भी प्रश्रकाल चला। प्रश्र पूछने के लिए लाटरी से सदस्यों का नाम निकला। यह महज संयोग रहा कि पहला नाम भाजपा पार्षद दल के नेता सूर्यकांत राठौड़ का निकला। राठौड़ ने बीएसयूपी योजना के तहत आबंटन में हुई गड़बड़ी का मामला उठाया। 
राठौड़ बीएसयूपी योजना के तहत शहरी गरीबों के लिए बने मकानों के आबंटन में भारी भ्रष्टाचार और अनियमितता का आरोप लगाते हुए कहा कि इस मामले में अब तक क्या जांच-पड़ताल की गई तथा जांच पश्चात क्या कार्यवाही हुई? राठौड़ के प्रश्र का जवाब देते हुए एमआईसी सदस्य विमल गुप्ता ने बताया कि शहर के विभिन्न इलाकों में बीएसयूपी के तहत शहरी गरीबों के लिए आवास बनाया गया है। जिसमें स्वीकृत निर्माण और आबंटन की जानकारी देते हुए श्री गुप्ता ने बताया कि आबंटन में गड़बड़ी की शिकायत मिलने के पश्चात जांच की गई। जांच के बाद जोन क्रमांक 7 के तीन, जोन कमिश्रर, उप अभियंता और सहायक, जोन 05 के एक सहायक को निलंबित किया गया है। इस मामले की जांच करने के लिए कमेटी बनी है, जिसकी अध्यक्षता एसडीएम कर रहे हैं। इस पर  राठौड़ ने महापौर के संरक्षण में भ्रष्टाचार होने का गंभीर आरोप लगाया।
 प्रश्रकाल में ही पार्षद सतीन जैन ने वाटर फिल्टर प्लांट की जानकारी मांगी। इसका जवाब देते हुए एमआईसी सदस्य नागभूषण राव ने बताया कि तीन फिल्टर प्लांट हैं, जे क्रमशरू 47, 87, 150 एमएलडी क्षमता के हैं। नगर निगम के 23 और पीएचई के 48 और प्लेसमेंट के 82 कर्मचारी वर्तमान में कार्यरत हैं। गत तीन वर्षों में 45 करोड़ 39 लाख 68 हजार 404 रूपए खर्च हुआ है। प्रश्रकाल में तीसरा प्रश्र लीलाधर चंद्राकर ने पूछा। श्री चंद्राकर ने नगर निगम के अदालती मामलों की जानकारी चाही। इसका जवाब देते हुए एमआईसी सदस्य समीर अख्तर ने बताया कि जिला न्यायालय में 157 और हाईकोर्ट में 325 मामले चल रहे हैं।  पार्षद श्रद्धा मिश्रा ने शहर में सुअर पालन के खिलाफ चल रहे अभियान की जानकारी मांगी। इस पर स्वास्थ्य समिति के प्रभारी श्रीकुमार मेनन ने बताया कि अब तक 304 सुअर पकड़े गए। साल के अंत तक शहर में सुअर न घूूमे, ऐसी व्यवस्था की जा रही है। वहीं उनका दूसरा प्रश्र शहर में अवैध निर्माण को लेकर था। इसका जवाब देते हुए एमआईसी सदस्य अनवर ने बताया कि अवैध निर्माण के खिलाफ लगातार कार्यवाही चल रही है। कार्यवाही के दौरान जिन लोगों के द्वारा नियमितीकरण के लिए आवेदन किया गया, उनके यहां कार्यवाही रोकी गई है। 
मोबाइल टॉवरों से टैक्स - सामान्य सभा में मोबाइल टॉवर से संपत्ति कर वसूलने का प्रस्ताव आया, इस प्रस्ताव को पारित किया गया। इसी प्रकार बूढ़ापारा से सत्तीबाजार जाने वाले मार्ग का नाम स्व. वैद्य पंडित लक्ष्मीकांत शर्मा के नाम पर किए जाने के प्रस्ताव केा भी पारित किया गया। अरविंद दीक्षित वार्ड अंतर्गत शैलेन्द्र नगर स्थित उद्यान का नाम नवग्रह उद्यान करने का प्रस्ताव भी पारित किया गया।  

 

Comments 0

Comment Now


Videos Gallery

Poll of the day

क्या बिहार की तर्ज पर यूपी चुनाव में भी महागठबंधन बन पाएगा?

81 %
0 %
19 %

Photo Gallery